ABOUT AUTHOR

laptop kharidne se pahle janiye laptop ke bare me jankari ( Gyan )

लैपटॉप खरीदने से पहले लैपटॉप के बारे में जानिए

Laptop Buying Knowledge ( Gyan ) Hindi

जानिए Laptop Kharidne Se Pehle Kya Dekhna Chahiye, किन-किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है, Laptop के बारे में पूरी जानकारी, कौन सा लैपटॉप खरीदें? HDD अच्छी होती है या SSD?

 कितने में और कैसा लैपटॉप ले ?

दोस्तों हमें जब भी लैपटॉप लेना होता है तो हम कौन सा लैपटॉप ले ये सोचकर हम कंफ्यूज हो जाते हैं तो आज हम इस टॉपिक में इस कंफ्यूजन को दूर कर देंगे उसके बाद आप अपनी बजट के मुताबिक अपना लैपटॉप खरीद सकोगे 

दोस्तों आपको मार्केट में तरह-तरह के लैपटॉप देखने को मिल रहे हैं जिसमें आपको बताया जाता है इस लैपटॉप में आपको स्क्रीन साइज (Screen Size ) इतनी मिलेगी डिस्प्ले ( Display ) एचडी HD मिलेगी या फिर प्रोसेसर ( Processor ) i3 मिलेगा i5 मिलेगा उसका RAM ddr3 DDR2 होगा उसका ( Hard Disk ) हार्ड डिस्क  HDD एस एच एच डी या SSD एसएसडी होगा । और बताया जाता है इसमें आपको यहां ( Integrated Graphics Card ) इंटीग्रेटेड ग्रैफिक्स कार्ड या फिर डेडीकेटेड ग्राफिक्स कार्ड ( Dedicated Graphics Card ) दिया गया है

दोस्तों अगर आपने इस चीजो का नॉलेज ले लिया तो आप लैपटॉप ( Laptop ) या कंप्यूटर ( Computer ) खरीदने में एक्सपर्ट हो जाओगे और आप अपने बजट के मुताबिक लैपटॉप( Laptop ) या कंप्यूटर (Computer ) को खरीदोगे


तो चलिए शुरू करते हैं

   1. स्क्रीन साइज़ ( Screen Size )
लैपटॉप के स्क्रीन साइज, Laptop के बारे में पूरी जानकारी, कौन सा लैपटॉप खरीदें?

सबसे पहले बात आती है लैपटॉप के स्क्रीन साइज की
  • दोस्तो यहां बताया जाता है कि आपको यहां 13 इंच की स्क्रीन या फिर 14 इंच की स्क्रीन या फिर 15 इंच की स्क्रीन साइज़ मिलेगी इसका मतलब ये हे की जितना इंच ज्यादा उतनी आपकी लैपटॉप की स्क्रीन बड़ी होगी  दोस्तों यहां आपके स्क्रीन की साइज़ जितनी बड़ी उतना प्राइस भी ज्यादा होता है

   2. डिस्प्ले ( Display )

Laptop के बारे में पूरी जानकारी, कौन सा लैपटॉप खरीदें?

उसके बाद आता है डिस्प्ले दोस्तों यहां आपको डिस्प्ले तीन तरह की मिलती है
1. HD  ( High Definition ) हाई डेफिनिशन
2. FHD  ( Full High Definition ) फुल हाई डेफिनिशन
3.UHD ( Ultra High Definition ) अल्ट्रा हाई डेफिनिशन

  • सस्ते बजट में ( HD ) एचडी डिस्प्ले मिलती है जिसमे आप नार्मल विडियो देख सकते हो उससे इससे ज्यादा महंगे में ( FHD ) फुल एच डी मिलती है जिसमे आप बड़ी साइज़ का मूवी विडियो या फिर ग्राफ़िक्स का उपयोग कर सकते हो उससे ज्यादा महंगे में (UHD) अल्ट्रा एचडी एचडी मिलती है जिसमे आप 4K विडियो का मज़ा ले सकते हो 
ये आप अपने जरुरत के हिसाब से ले सकते हो

   3.  प्रोसेसर ( Processor ) i3 vs i5 vs i7

Laptop के बारे में पूरी जानकारी, कौन सा लैपटॉप खरीदें?

उसके बाद आता है प्रोसेसर


  • दोस्तों यह प्रोसेसर क्या है आपमें  से कहीं लोगों को यह नहीं जानते होगे की यह प्रोसेसर क्या है तो चलिए जान लेते हे की ये होता क्या हे ?
  • दोस्तों हम प्रोसेसोर को गाड़ी के इंजन के साथ कंपेयर करेंगे मान लीजिए आपकी गाड़ी नए मॉडल की है तो आप का इंजन भी नए मॉडल की तरह होगा इसमें तरह-तरह की सिस्टम होगी और आपकी गाड़ी स्मूथली चलेंगी लेकिन अगर आपकी गाड़ी पुरानी होगी आपका इंजन भी पुराना होगा और वह इंजन में कहीं सारी कमियां होगी जिससे आपकी गाड़ी रुक रुक कर चले गी इसी तरह कंप्यूटर में या फिर लैपटॉप में यह प्रोसेसर गाड़ी की इंजन की तरह होता है अगर आपका प्रोसेसर नए मॉडल का है तो आपका कंप्यूटर या लैपटॉप बिना रुके स्मूथली चलेगा और अगर आपका प्रोसेसर पुराने मॉडल का है तो आपका कंप्यूटर या फिर लैपटॉप रुक रुक के चलेगा
 Processor बनाने वाली कम्पनी कौनसी हे ?
  • दोस्तों प्रोसेसर बनाने वाली दो कंपनी है एक है इंटल ( Intel ) और दूसरी है ( AMD ) ए एम डी दोस्तों यह दो कंपनी अपनी प्रोसेसर बनाती है
  • प्रोसेसर के भी कहीं मॉडल है जैसे कि कोर I3 हो गया कोर I5 हो गया कोर i7 हो गया और अभी हाल ही में लेटेस्ट नया मार्केट में आया है कोर i9

दोस्तों अब आप कहोगे के यह कोर क्या है
What is Core ?
  • मान लीजिए दोस्तों के आप का दिमाग एक प्रोसेसर है और आपके पास काम करने के लिए दो हाथ है यानि वह दो हाथ प्रोसेसर के कोर है
  • अगर आप एक हाथ से काम करोगे तो काफी वक्त जाएगा और अगर आप वह काम दो हाथों से करोगे तो जल्दी कर पाओगे लेकिन अगर मैं आपको कहूं आपके पास चार हाथ हो तो सोचीय वह काम कितना फास्ट हो जाएगा इसी तरह यह प्रोसेसर में कोर काम करता है
  • इसी तरह कोर I3 में ड्यूल कोर यानी दो हाथ यानी 2 कोर इसमें आप अपने बेजीक काम कर सकते हो जैसे कि डाटाएंट्री हो गया फोटो एडिटिंग हो गया ऑफिस वर्क हो गया डाउनलोडिंग हो गया इंटरनेट वर्क हो गया जेसे काम आप इस i3 प्रोसेसर में कर सकते हैं इस प्रोसेसर के साथ मिनिमम 4जीबी रैम होनी ही चाहिए अगर आप लैपटॉप या कंप्यूटर सिर्फ ऑफिस यूज़ करने के लिए लेना चाहते हो या फिर डाटा एंट्री के लिए लेना चाहते हो इंटरनेट यूज करने के लिए लेना चाहते हो तो यह कंप्यूटर आप अपने लिए ले सकते हो
  • उसके बाद आता है कोर I5. लैपटॉप में Dual-core आता है और कंप्यूटर में Quad-core आता है इसमें 4 कोर आते है । यानी 4 हाथ तो आप सोचिए के यह i3 प्रोसेसर से कितना फास्ट काम करता होगा यह प्रोसेसर i3 के कंपेयर से महंगा आता है जिसमें आप अच्छे सॉफ्टवेयर गेम सॉफ्टवेयर वीडियो एडिटिंग जैसे हैवी सॉफ्टवेयर उपयोग कर सकते हैं इस प्रोसेसर के साथ मिनिमम 8GB रैम होनी चाहिए
  • दोस्तों अगर आप अपने बिजनेस के लिए जैसे कि फोटो एडिटिंग हो गया नॉर्मल ग्राफिक्स हो गया या फिर नॉर्मल सॉफ्टवेयर तो ऐसे में आपको यह कंप्यूटर या लैपटॉप लेना चाहिए दोस्तों इसमें भी आप वीडियो एडिटिंग सॉफ्टवेयर भी चला सकते हैं जो नॉर्मल वीडियो जैसे टिक टॉक जैसे यूट्यूब वीडियो एडिटिंग के लिए

  • उसके बाद आता है कोर i7 इस प्रोसेसर में 6 कोर आते है । इसमें आप हैवी सॉफ्टवेयर चला सकते हे जैसे कि मैक्स 3D मैक्स 3D माया गेमिंग सॉफ्टवेयर जैसे सॉफ्टवेयर इसमें उपयोग कर सकते हैं इस प्रोसेसर के साथ मिनिमम 16gb रैम होनी चाहिए दोस्तों यह i5 के कंपैरिजन से थोडे महंगे होते हैं इसमें ज्यादा फीचर होते हैं ज्यादा फास्ट काम करते हैं दोस्तों अगर आप हैवी सॉफ्टवेयर जैसे कि आर्किटेक्ट का काम कर रहे हो गेमिंग का काम कर रहे हो मैरिज वीडियो एडिटिंग का काम कर रहे हो या फिर 4K वीडियो एडिटिंग का काम कर रहे हो या फिर ग्राफिक डिजाइन का काम कर रहे हो तो आपको यह कंप्यूटर जरुर लेना चाहिए

  • उसके बाद आता है मार्केट में नया अवेलेबल कोर i9 इस प्रोसेसर में 8 कोर आते हैं इसमें आप हेवी गेमिंग सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर सकते हैं इस प्रोसेसर के साथ मिनिमम 32GB तक रैम होनी चाहिए दोस्तों यह लैपटॉप कंप्यूटर सबसे महंगे मिलते हैं इसमें आप 4K वीडियो एडिटिंग हैवी सॉफ्टवेयर के साथ ग्राफिक सॉफ्टवेयर का यूज़ कर सकते हैं दोस्तों अगर आप गेमिंग सॉफ्टवेयर एडिटिंग का यूज कर रहे हो ग्राफिक्स एडिटिंग का यूज कर रहे हो 4के वीडियो एडिटिंग का यूज कर रहे हो तो आप को यह कंप्यूटर या लैपटॉप अपने बजट के मुताबिक जरुर लेना चाहिए यह बाकी सारे कंप्यूटर से बहुत ही महंगा आता है
अब आप सोचोगे के ये Generation क्या हे ?
What is Generation ?
  • दोस्तो आपने देखा होगा हर प्रोसेसर के साथ ( generation ) जनरेशन लिखा हुआ था जैसे कि फर्स्ट जेनरेशन ( First generation ) सेकंड जेनरेशन ( second generation ) थर्ड जनरेशन ( Third generation ) 5th जनरेशन तो यह जनरेशन क्या है दोस्तों जैसे सैमसंग मोबाइल में j7 मार्केट में आया फिर उसी J7 में कुछ सिस्टम को अपग्रेड करके फिर से J7 को मार्केट में J7 nxt नेक्स्ट करके मार्केट में लाया गया उसके बाद फिर से मोबाइल में ज्यादा सिस्टम डालकर फिर से J7 प्राइम नाम से मार्केट में लाया गया इसी तरह यह जनरेशन i3 सेकंड जेनरेशन उसके बाद उस I3 में कुछ सिस्टम अपडेट करके मार्केट में लाया गया और उसे नाम दिया गया i3 थर्ड जनरेशन 
  • दोस्तों मार्केट में जेसे मोबाइल प्राइस में डिफरेंट होता है वैसे ही जितना जनरेशन ज्यादा उतना ज्यादा प्राइस भी। दोस्तों आप लोगोको समझ में आई गया होगा कि यह जनरेसन क्या है
तो दोस्तों आप जरुर कोशिश करें के आप लेटेस्ट जनरेसन का ही प्रोसेसर ले

   4. RAM ( Random Access Memory  )

  • इसके बाद हमारा नेक्स्ट इंपॉर्टेंट पार्ट है कंप्यूटर या लैपटॉप का वो है ( RAM ) रेम जिसे हम कहते हैं ( Random Access Memory  ) रेंडम एसएस मेमोरी दोस्तों आप अपने कंप्यूटर या लैपटॉप में सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन ओपन करते हो तो वह सब एप्लीकेशन या सॉफ्टवेयर रेम के अंदर ओपन होते है
अब आप सोचेंगे कि हमारे कंप्यूटर में मिनिमम कितना रैम होना चाहिए ?
  • अगर आप देखोगे I3 लैपटॉप मैं तो उस लैपटॉप में मिनिमम 4GB तक रैम होनी चाहिए, मार्केट में जितने भी i3 लैपटॉप या कंप्यूटर है उनमें मैं मिनिमम 4GB रैम तो दिए जाते है ।
  • सेम इसी तरह अगर आप I5 लैपटॉप या कंप्यूटर लेते हो तो आपको 8 जीबी तक रैम लेनी चाहिए
  • ऐसे ही i7 और i9 जैसे लैपटॉप और कंप्यूटर में मिनिमम 16GB और 32जीबी तक रेम होनी चाहिए 


   5. ग्राफ़िक्स कार्ड ( Graphics Card ) Integrated vs Dedicated Graphics Card
Laptop के बारे में पूरी जानकारी, कौन सा लैपटॉप खरीदें?
उसके बाद आता है ग्राफिक्स कार्ड


  • ग्राफिक्स कार्ड हमारे लैपटॉप या कंप्यूटर में बहुत ही इंपॉर्टेंट आता है स्पेशली तब जब आप वीडियो एडिटिंग ग्राफिक डिजाइन या फिर गेमिंग करते हो
यहाँ आपको 2 तरीके के ग्राफ़िक्स कार्ड देखने को मिलेगे 
1 Integrated Graphics Card 
2 Dedicated Graphics Card

  • यहां पर लैपटॉप और कंप्यूटर में नॉर्मल ई ग्राफिक्स इंटीग्रेटेड ग्राफिक्स आता है या फिर डेडीकेटेड ग्राफिक्स आता है
दोस्तों इसे समझने के लिए आपको ग्राफिक्स के बारे में जानना होगा कि आखिर यह ग्राफिक्स क्या है ?
  • दोस्त आप अपने लैपटॉप या कंप्यूटर कि स्क्रीन पर जो भी गेमिंग वगैरा देख रहे हो या फिर आपको दिखाया जाता है वो सब आपको ग्राफिक्स कार्ड की मदद से दिखाया जाता है जोबी आप वीडियो गेम खेलते हो या फिर जो भी वीडियो देखते हो जो भी आपको दिखाया जाता स्क्रीन पे वो सब ग्राफिक्स कार्ड की मदद से दिखाया जाता है
यहां पर आपको दो तरह के ग्राफ़िक्स कार्ड  देखने को मिलेंगे एक इंटीग्रेटेड ग्राफिक्स और एक है डेडीकेटेड ग्राफिक्स 
1 Integrated Graphics Card
  • अगर आपके लैपटॉप में 2gb का इंटीग्रेटेड ग्रैफिक्स लिखा हुआ है तो इसका मतलब यह है कि आपका प्रोसेसर 2GB का ग्राफिक्स अपकी रैम से यूज़ करेगा ऐसा होने पे जब भी आप वीडियो एडिटिंग या फिर गेमिंग खेलोगे तो काफी लोड पड़ता है जिसकी वजह से आपका कंप्यूटर हैंग होने लगता है या फिर लेक होने लगता है तो आप को हमेशा याद रखना हे कि अगर इंटीग्रेटेड ग्रैफिक्स दिया है तो वो प्रोसेसर आपके RAM को एक ग्राफिक्स कार्ड की तरह उपयोग करेगा
 2 Dedicated Graphics Card
  • और अगर आपके लैपटॉप में लिखा हुआ है डेडीकेटेड ग्राफिक्स कार्ड तो इसका मतलब यह है कि आपको 2GB या फिर 4GB जितने जीबी का हो वह ग्राफ़िक्स कार्ड अलग से दिया होता है वह आपकी RAM को as ग्राफिक्स कार्ड की तरह यूज़ नहीं करता बल्कि अलग से जो दिया हे वो इस्तेमाल होता है जिससे आप अगर वीडियो एडिटिंग या फिर गेमिंग करते हो तो आपको काफी अच्छा रिजल्ट मिलेगा ग्रोहिक्स में और आपका कंप्यूटर भी लोड नहीं लेगा और स्मूथली चलेगा, तो याद रहे है के अगर आप वीडियो एडिटिंग करना चाहते हो या फिर गेमिंग तो आपको ये डेडिकेटेड ग्राफ़िक्स वाला लैपटॉप लेना चाहिए ।

   5. हार्ड डिस्क ( Hard Disk ) HDD vs SSD

Laptop के बारे में पूरी जानकारी, कौन सा लैपटॉप खरीदें? HDD अच्छी होती है या SSD?
अब नेक्स्ट हमारा पार्ट आता है hard disk 
  • आपको पता ही होगा के ये हार्ड डिस्क क्या होता है आप अपने कंप्यूटर में जो भी डाटा सेव करोगे वह सब हार्ड डिस्क में सेव होगा आप इसे कंपेयर कर सकते हैं आपके मोबाइल के मेमोरी कार्ड से जिस तरह मोबाइल में मेमोरी कार्ड होता है इसी तरह कंप्यूटर में हार्ड डिस्क होति हैं
अब यहां आपको जनरली 2 तरीके के हार्ड डिस्क देखने को मिलते हैं
  • एक होता है एच डी डी HDD जिसे हम कहते हैं Hard Disk Drive यह जो हार्ड ड्राइव है नॉर्मल आपको सभी लैपटॉप और कंप्यूटर में मिल जाएंगे हार्ड डिस्क बहुत ही सस्ते होते हैं और उसका Read Writable रीड राइटटेबल बहुत ही नॉर्मल होता है अरे और ये मार्केट में जल्दी अवेलेबल मिल जाते हैं

  • और दूसरा होता है एसडीडी SDD जिसे हम कहते हैं Solid State Drive इसकी Read Writable  स्पीड बहुत ही फास्ट होती है अगर हम कंपेयर करें HDD से
  • यह एसडीडी ड्राइव मार्केट में बहुत ही महंगे मिलते हैं और यह ज्यादातर महंगे लैपटॉप और कंप्यूटर में देखने को मिलते हैं इसका जो स्पीड परफॉर्मेंस है वह बेहतर मिलेगी फास्ट मिलेगी एचडीडी के कंपेयर से 

   6. ओप्रटिंग सिस्टम ( Operating System ) Dos vs Windows
Operating System Kounsi Achhi Hai



  • इन सब चीजों के बाद आता है यहां पर डोज ( Dos )और विंडोज़ ( Windows ) जी हां दोस्तों अगर आप मार्केट में लैपटॉप खरीदने जाते हो तो आपको यहां पर 2 तरीके के लैपटॉप देखने को मिलते हैं एक है डोस और दूसरा है विंडोज
  • डोज कंप्यूटर नॉर्मल पुराने कंप्यूटर की तरह टेक्स्ट फॉर्मेट में बताता है ये एक कमांड की तरह काम करता है ऐसा ग्राफिक्स नहीं देखने मिलता है जैसा हम अपने विंडोज में देखते हैं एप्लीकेशन फोल्डर वगैरा
  • इस डोज कंप्यूटर को विंडोज में कन्वर्ट करने के लिए उस लैपटॉप में अलग से एक विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम ( Windows Operating System ) इंस्टॉल करना पड़ेगा
  • और जो विंडोज लैपटॉप मिलेगा वह डोज कंप्यूटर के कंपेयर से थोड़ा महंगा मिलेगा

दोस्तों आपको अगर ये जानकारी अच्छी लगी हो तो जरुर इस टॉपिक को लोगो तक शेयर करे 
और अपना सुजाव निचे कमेंट में जरुर लिखे 
धनियवाद
Electronic Product ख़रीदे सस्ते दाम में Shop Now

Post a Comment

0 Comments