ABOUT AUTHOR

Port Ki puri Jankari Jo computer me istemal hote hai

जानिए हर तरह के पोर्ट की जानकारी जो कोम्पुटर में इस्तेमाल होती हे



तुमने हर एक कंप्यूटर CPU के पीछे हर तरह के विभिन्न पोर्ट को देखा होगा, सब का नाम और आकर अलग अलग होगा , तो चलिए जानते हे की कितने तरह के पोर्ट कंप्यूटर में इस्तेमाल होते हे

आज के टाइम में कंप्यूटर में काफी तरह के पोर्ट आते हे. यूएसबी (USB), एच डी एम आई (HDMI), वीजीए (VGA), इत्यादि . अगर तुम कोई लैपटॉप या कंप्यूटर खरीदने वाले हो तो सबसे पहले ये जरुर जाने उसमे कितने पोर्ट हे और कौनसे हे ? कंप्यूटर के पोर्ट्स को हम अलग अलग 6 केटेगरी में जानेगे. जो कुछ इस तरह से होगे
(1). USB (2). Storage /Disk (3). Network/Communication (4). Audio (5). Video (6). Power

इस हरेक केटेगरी में दुसरे सब केटेगरी भी होते हे, तो चलिए जानते हे इन सबके बारेमे

(1). USB ( Universal Serial Bus )....

  • USB Standard     

  • USB 2.0     USB 3.0 ( USB 3.0 GEN1 )     USB 3.1 ( USB 3.0 GEN2 )
  • Max Transfer Speed     

  • USB 2.0 ( 480 Mbit/s ),    USB 3.0, ( 5 Gbit/s ),    USB 3.1 ( 10 Gbit/s )
  • Power Output    

  •  USB 2.0 ( 2.5W ),    USB 3.0, ( 4.5W ),    USB 3.1 ( 100W )
  • Logo    

  •  USB 2.0 ( ),    USB 3.0 ( ),    USB 3.1 ( )

  • Symbol

  • USB 2.0 ( ),    USB 3.0, ( ),    USB 3.1 ()

यूएसबी पोर्ट वह आज के दौर में सबसे ज्यादा कॉमन पार्ट है इस पोर्ट की सहायता से तुम अपने सभी डेटा को ट्रांसफर कर सकते हो या फिर किसी और डिवाइस को कंप्यूटर के साथ कनेक्ट कर सकते हो, जैसे कि कीबोर्ड माउस गेम बोर्ड प्रिंटर इत्यादि । यूएसबी के टोटल 4 अलग अलग वर्जन है और हर एक के पीछे अलग अलग प्रकार है । USB की शुरुआत 1995 की साल में करने में आई थी. IBM, MICROSOFT, INTEL, COMPAQ, DELL, जैसी बड़ी कंपनियों ने मिलकर इस USB यूएसबी इंप्लीमेंट फॉर्म की स्थापना की थी यह सारी शाखाएं यूएसबी के लिए नियम तय करती है. इस USB यूएसबी के आज तक के टोटल 5 वर्जन आ गए हैं जो नीचे की तरह है.

USB 1.0 : इस यूएसबी पोर्ट वर्जन की स्पीड 1.5 Mbit/S ( मेगाबाइट पर सेकंड ) होती है. और ज्यादा से ज्यादा 12 Mbit/S होती है. पर अब इस वर्जन का अब कहीं भी इस्तेमाल नहीं होता.

USB 2.0 : यह वर्जन शायद आज हर एक कंप्यूटर में उपयोग होता है, इस वर्जन को अप्रैल 2000 में रिलीज करने में आया था, इसकी मदद से हम डाटा ट्रांसफर 280 Mbit/S से लेकर 400 Mbit/S कि स्पीड से कर सकते हैं. USB 2.0 का पोर्ट के प्लग हमेशा ब्लैक कलर में रखने में आता है

USB 3.0 : यह वर्जन 2008 में आया था, जैसे-जैसे डाटा ट्रांसफर का उपयोग ज्यादा होने लगा,    वैसे ही ज्यादा स्पीड से डाटा ट्रांसफर करने के लिए इस पोर्ट को बनाया गया, यह वर्जन 400 MBPS कि स्पीड से डाटा को ट्रांसफर करता है, यह पोर्ट भी आज के हर एक कंप्यूटर में दिया होता है इस पोर्ट का ब्लू कलर रखने में आया है और यह बैकवर्ड कंपैटिबल होता है मतलब कि इस पोर्ट के अंदर तुम यूएसबी 2.0 सपोर्टेड डिवाइस का भी उपयोग कर सकते हो । 

USB 3.1: यहां पर 10gbps कि स्पीड से डाटा को ट्रांसफर कर सकते हैं, सबसे ज्यादा बड़ी फाइल को ट्रांसफर करने के लिए इस पोर्ट का इस्तेमाल होता है, इसे यूएसबी एसएस SS यानी सुपर स्पीड से भी जाना जाता है। यह 3.0 का एडवांस वर्जन है 3.0 और 3.1 दोनों एक जैसे ही पोर्ट उपयोग में होते हैं इस पोर्ट में भी GEN-1 और GEN-2 ऐसे 2 वर्जन है ।

USB TYPE C:




USB 2.0 (480 Mb/s)

 USB 3.0(5 GB/s)
USB 3.1 (10 GB/s)
      

USB TYPE C: यह पोर्ट एकदम नई टेक्नोलॉजी का है या एक खास पोर्ट और कनेक्टर है. यह पोर्ट  आने वाले हर एक मोबाइल लैपटॉप. और हर एक गैजेट में देखने को मिलेगा. USB-C की खास बात यह है कि उसकी खास बात यह है कि सामान्य यूएसबी केबल प्लग सिर्फ एक की तरह से कनेक्ट होता है जबकि Type -C में तुम प्लग को दोनों तरफ से इस्तेमाल कर सकते हो, तुम प्लग को कैसे भी कनेक्ट कर सकते हो, इस पोर्ट के पावर डिलीवरी सिस्टम से तुम सिर्फ मोबाइल ही नहीं बल्कि टेबलेट और लैपटॉप को भी चार्ज कर सकते हो,
इस वर्जन में 1.0 का इस्तेमाल अब कहीं भी नहीं होता 2.0 और सबसे नया 3.0 वर्जन ही इस्तेमाल होता है, इस को पहचानने के लिए यूएसबी 2.0 हमेशा ब्लैक कलर में होता है जबकि यूएसबी 3.0 हमेशा ब्लू कलर में होता है इन सभी के अलग कनेक्टर होते हैं तो चलिए जानते इन सभी कनेक्टर के बारे में
→→→→→→→→

usb type a b c  usb type a vs type c  usb type a female  usb type a to type c  usb type d  usb cable connection  usb type a pinout  1 usb type a
USB TYPE A

USB TYPE A : यह कनेक्टर सबसे ज्यादा कॉमन और सबसे ज्यादा उपयोग में होता है इसका सबसे ज्यादा एग्जांपल हमारा पेनड्राइव है इसके अलावा यह प्लग आपके किसी भी डिवाइस में देखने को मिल जाएगा USB - 1.0, 2.0, 3.0 इत्यादि हर एक में एक ही साइज के कनेक्टर उपयोग में होते हैं, और यह बैकवर्ड कंपैटिबिलिटी सपोर्ट है,
→→→→→→→→

usb type b female  usb type a b c  usb type b to type c  usb type d  usb cable connection  usb type b pinout  usb type c  type b charger
USB TYPE B

USB TYPE B: यह कनेक्टर एकदम चौरस आकार में होता है. इसका इस्तेमाल बड़े प्रिंटर स्कैनर एक्सटर्नल हार्ड डिस्क इत्यादि में इस्तेमाल होता है. USB-1.0, 2.0, TYPE B कनेक्टर हूबहू एक जैसे ही होते हैं. लेकिन 3.0 का आकार और साइज को बदल देने मैं आया है इसलिए वह बैकवर्ड कंपैटिबिलिटी सपोर्ट नहीं करता ।
→→→→→→→→→→



mini usb type b  mini usb vs micro usb  mini usb pinout  usb mini b 5 pin  mini usb to mini usb cable  mini usb connector  micro usb cable  usb a to mini b usb cable
USB Mini-A/B

USB Mini-A:/USB Mini-B : इस तरह के कनेक्टर डिजिटल कैमरा, शुरुआत पेढ़ी के स्मार्टफोन में इस्तेमाल किए जाते थे।
→→→→→→→→→→

micro usb connector  usb micro b pinout  micro usb type c  usb 3.0 micro b  usb micro b cable  mini usb pinout  usb cable types chart  usb cable connection
USB Micro-A/B

USB Micro-A/ USB Micro-B : जैसे-जैसे स्मार्टफोन कि साइज छोटी होती गई. तब जरूरत पडने लगी एकदम नए और छोटी साइज के कनेक्टर की तब USB-IF यह 2007 के स्मार्टफोन में आ सके ऐसे कनेक्टर बनाने में आए. आज के हर एक स्मार्ट फोन में यूएसबी माइक्रोपोर्ट होता है
→→→→→→→→→→

cpu back side diagram  front and back panel of computer  cpu back side port name  back side of system unit  back side of system unit description  back view of cpu  front panel of cpu with label  cpu back side connection
CPU BACK SIDE
→→→→→→→→→


Thunderbolt:

thunderbolt devices  thunderbolt 3 speed  thunderbolt 3 port  thunderbolt speed  thunderbolt cable  thunderbolt to hdmi  thunderbolt 3 cable  thunderbolt to usb
Thunderbolt


इस टेक्नोलॉजी को संयुक्त रूप से एप्पल और इंटेल कंपनी के जरिए विकसित किया गया है. इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल भी डाटा ट्रांसफर और दूसरे कहीं सारे उपयोग हैं, सबसे खास बात यह है कि यह पोर्ट दूसरे पोर्ट पर भी चल सकता है यानी के 1 ही पोर्ट तुम्हें दो अलग-अलग तरह से काम आ सकते हैं सन 2011 में इस टेक्नोलॉजी की शुरुआत करने मैं आई थी एप्पल कंपनी के हर एक लैपटॉप में इस पोर्ट को दिया गया है, इस पोर्ट के कुल 3 वर्जन है, इस टेक्नोलॉजी का निशान बिजली के सिंबॉल जैसा है, ऑर वर्जन 1, वर्जन 2 मैं MDP यानी MINI DISPLAY PORT कनेक्टर का इस्तेमाल होता है, पर इसका मतलब यह नहीं के हर एक MDP वो ThunderBolt को सपोर्ट हो, दोनों तरफ की डिवाइस  पर ThunderBolt की निशानी हो तभी समझे कि वह पोर्ट सपोर्ट करता है

Thunderbolt 1: यह पोर्ट 10gbps की स्पीड से डाटा ट्रांसफर कर सकता है जो यूएसबी 3.0 से भी ज्यादा है

Thunderbolt 2: यह पोर्ट 20 जीबीपीएस की स्पीड से डाटा को ट्रांसफर करता है यह पार्ट बैकवर्ड कैपेबिलिटी भी सपोर्ट करता है और यह एक 4K वीडियो मॉनिटर भी सपोर्ट करता है

Thunderbolt 3: इस वर्जन में बहुत सारे फेरफार करने में आए हैं. आज इस मार्केट में सबसे ज्यादा स्पीड से डाटा ट्रांसफर करने में आता है तो यह इसकी मदद से हो पाता है, इसके लेटेस्ट वर्जन 30 से 40 जीबीपीएस की स्पीड से डाटा ट्रांसफर कर सकता है और तो और इसमें एक साथ में दो 4K मॉनिटर भी चला सकते हैं, कंप्यूटर नेटवर्क के लिए भी इसका इस्तेमाल होता है, यह कनेक्टर USB-C पर चल सकता है. यह बैकवर्ड कैपेबिलिटी सपोर्ट नहीं करता लेकिन यह पावर डिलीवरी जरूर कर सकता है मतलब कि इसकी सहायता से हम डिवाइस को चार्ज भी कर सकते हैं।
→→→→→→→→→→

HDMI:


hdmi abbreviation  how to use hdmi  hdmi cables explained  types of hdmi ports  hdmi pinout  hdmi cable for tv  hdmi adapter  hdmi port on laptop
HDMI-High Defination Multimedia Interface

HDMI यानी ( High Defination Multimedia Interface ) यह भी एक तरह से डिस्प्ले टेक्नोलॉजी है इसका इस्तेमाल बहुत ज्यादा वीडियो रेजोल्यूशन के लिए होता है, यह आज का एक कॉमन पोर्ट है. यह पोर्ट तुम्हारे लैपटॉप, डीवीडी, blu-ray प्लेयर, LCD, LED टीवी में भी देखने को मिलता है, इस टेक्नोलॉजी की शुरुआत आठ कंपनी ने मिलकर करी थी, आज इस HDMI फर्म नाम की शाखा बनाई, आज शाखा में 83 कंपनी शामिल है, पहला वर्जन 2002 में आया था आज तक के इसके 7 वर्जन आ गए हैं


  • 1.0  Resolution → 1920x1200 6૦ HZ
  • 1.1  Resolution → 1920x1200 6૦ HZ
  • 1.2  Resolution → 1920x1200 6૦ HZ
  • 1.3  Resolution → 2560x1600 6૦ HZ
  • 1.4  Resolution → 3840x2160, 4096x2160, 3D:1920x1080
  • 2.0  Resolution → 4096x2160 (4K) 3D:1920x1080
  • 2.1  Resolution → 4K,5K,8K,10K,  Also 3D supported
अगर तुम कोई HDMI सपोर्टेड गैजेट लेना चाहते हो तो जरूर से चेक करें की उसमे 2.0 वर्जन है या नहीं, सबसे ज्यादा 1.4 और 2.0 वर्जन उपयोग होता है, USB की तरह इसमें भी अलग-अलग कनेक्टर होते हैं, इस HDMI मैं कुल पांच अलग-अलग कनेक्टर का इस्तेमाल होता है

TYPE A: यह एक रेगुलर साइज का HDMI कनेक्टर है, शायद सभी टीवी और लैपटॉप में यह वर्जन अवेलेबल है।

TYPE B: यह एक ड्यूल लिंक कनेक्टर है इसका इस्तेमाल बहुत कम होता है।

TYPE C: इसे MINI HDMI भी कहा जाता है, पोर्टेबल डिवाइस जैसे कि गेमिंग कंसोल, वीडियो रिकॉर्डर इत्यादि मैं इस्तेमाल होता है,

TYPE D: इसे MICRO HDMI भी कहा जाता है, मोबाइल, टेबलेट, जैसे डिवाइस मैं इस्तेमाल होता है,

TYPE E: इस तरह का कनेक्टर आटोमोटिव इलेक्ट्रॉनिक्स मैं इस्तेमाल होता है,

कनेक्टर के अलावा उसके केबल के बी पांच प्रकार हैं,

HDMI Standard Cable:
HDMI Standard with Ethernet:
HDMI Standard with Automotive:
HDMI High-speed:
HDMI High-speed with Ethernet:

→→→→→→→→→→

Display Port:

displayport monitor  displayport vs dvi  displayport to hdmi  displayport vs hdmi gaming  displayport cable  displayport to vga  displayport 144hz  displayport mini
Displayport cable

यह पोर्ट भी HDMI से मिलती-जुलती टेक्नोलॉजी है, इसकी शुरुआत VIDEO ELECTRONICS STANDARD ASSOCIATION(VESA) ने की थी, HDMI से पहले यह टेक्नोलॉजी बहुत ही लोकप्रिय थी, यह टेक्नोलॉजी DVI पोर्ट और VGA पोर्ट की कमियों को दूर करने के लिए बनाने में आई थी, फिर भी या एक बैकवर्ड कैपेबिलिटी सपोर्ट करता है, कन्वर्ट केबल की सहायता से तुम डिस्पलेपोर्ट ऑर DVI और VGA का इस्तेमाल कर सकते हो, इस टेक्नोलॉजी के टोटल पांच वर्जन है, 1.0, 1.1, 1.2, 1.3, 1.4 ऐसे कुल 5 वर्जन है, सबसे नया वर्जन 1.4 जो एक 8k (7680x4320) तक सपोर्ट कर सकता है।

इस पोर्ट के तीन अलग कनेक्टर है
1. Standard, 2. Mini, 3. Micro

इसमें से स्टैंडर्ड और मेनी सबसे ज्यादा उपयोग होता है, यह पोर्ट बिजनेस क्लास लैपटॉप मैं इस्तेमाल क्या जाता है, जिसमें एप्पल का मैकबुक, डेल का XPS सीरीज, HP का ELITBOX इत्यादि जैसे लैपटॉप में होता है, डेक्सटॉप में जो ग्राफिक्स कार्ड इस्तेमाल होते हैं उसमें भी यह पोर्ट दिया होता है, यह डिस्पलेपोर्ट रॉयल्टी फ्री होने की वजह से कहीं सारी कंपनियां खुद की अलग से टेक्नोलॉजी इस पोर्ट के बेस पर बना रही है DDM, ( Direct Drive Monitor), EDP ( Embedded Display Port), IDP(Internal Display Port), PDMI, WDP, SLIMPORT, DISPLAY ID, DOCKPORT. यह सब इस टेक्नोलॉजी पर बनाए हुए हैं
→→→→→→→→→



DVI: 

dvi vs vga  dvi-d cable  dvi to vga  dvi vs hdmi  dvi to hdmi  dvi-d to vga  dvi port to hdmi  dvi-d to hdmi
DIGITAL VISUAL INTERFACE

DVI का मतलब होता है ( DIGITAL VISUAL INTERFACE. यह पोर्ट भी सबसे कॉमन पोर्ट है , यह पोर्ट 1999 में डिजाइन करने में आई थी, यह पोर्ट 1920x1200 और 2560x1600 तक दिखा सकता है, यह पोर्ट हमेशा सफेद रंग में होता है, DVI-A, DVI-D, DVI-I, इसमें भी DVI-D और i के दो कैटेगरी है, दोनों में सिंगल लिंक और ड्यूल लिंक जैसे कैटेगरी है. जबकि DVI-A सिर्फ  एनालॉग सिगनल ही भेज सकते हैं, जबकि D Digital सिग्नल भेज सकता है, यह पोर्ट तुम्हें फ्लैट पैनल टीवी ऑर कुछ डीवीडी प्लेयर एप्पल टॉप में देखने को मिल सकते हैं, इस पोर्ट की सबसे बड़ी खामी यह है कि, यह वीडियो के साथ में ऑडियो का प्रसारण नहीं कर सकता,

VGA:

vga resolution  vga connector pinout  vga cable  vga to hdmi  vga monitor  vga resolution limit  vga to dvi  vga camera
VGA male-female

यह पोर्ट सबसे पुराना है और अभी की तारीख में इसका इस्तेमाल होता है. VGA का पूरा नाम Video Graphics Array ऐसा होता है, इस पोर्ट की रचना 1987 में IBM कंपनी ने की थी, यह पोर्ट नॉर्मली ब्लू कलर में देखने को मिलते हैं, और पोर्ट के दोनों साइड स्क्रू होते हैं, यह भी सिर्फ वीडियो का ही प्रसारण करता है, क्योंकि इसमें टोटल 15 पिन होते हैं, VGA पोर्ट 1920x 1080 का रेजोल्यूशन कर सकता है।

PS/2 :

ps2 amazon  ps2 price  ps2 slim  ps2 ebay  ps2 games  ps2 console  ps2 emulator  ps2 controller
PS2 Port

यह दो पोर्ट कीबोर्ड और माउस को कनेक्ट करने के लिए इस्तेमाल होते हैं, PS/2 का मतलब पर्सनल सिस्टम 2 ऐसा होता है, क्योंकि यह सबसे पहले IBM के PS/2 कंप्यूटर में थे, इसमें पर्पल कलर का पोर्ट कीबोर्ड के लिए और ग्रीन कलर का पोर्ट माउस के लिए उपयोग होता है, स्पोर्ट की जगह यूएसबी ने ले ली है,

Serial Port: 

serial port and parallel port  serial port connector motherboard  serial port pins  serial port pinout  serial port rs232  serial port to usb  serial port vs parallel port  serial port vs vga
Serial ports definition

इस पोर्ट को कॉम पोर्ट भी कहां जाता है यह पोर्ट कम्युनिकेशन के लिए इस्तेमाल होता है, यह बिट बाय बिट डाटा को ट्रांसफर करता है, यह पोर्ट भी सबसे पुराने पोर्ट में से एक हैं और अभी भी कहीं सारे कंप्यूटर और कहीं सारे चीजों में इस्तेमाल होता है जैसे कि मॉडेम, सीएनसी कंट्रोलर, जूना प्रिंटर, टेक्स्ट बेजेड डीस्पले बोर्ड, कुछ इस तरह के इंडस्ट्रियल कंप्यूटर में यूज होता है इसमें टोटल 2 तरह के कनेक्टर उपयोग होते हैं, जिसमें DB-9 या फिर DB-25 से पहचाना जाता है,

PARALLEL PORT :

parallel port devices  parallel port function  parallel port vs serial port  serial and parallel ports definition  types of parallel ports  parallel port to usb  parallel port printer  parallel port cable
Parallel ports definition

इस पोर्ट को LPT पोर्ट या फिर प्रिंटर पोर्ट भी कहा जाता है , इसकी रचना भी IBM कंपनी ने को थी,  सीरियल पोर्ट 1 के बाद 1 बिट  भेजता है , जबकि पेरेलल पोर्ट 1 साथ 8 बिट डेटा का ट्रांसफर कर सकता है, जैसे कि प्रिंटर, स्केनर, एक्सटर्नल हार्ड डिस्क, इस पोर्ट की जगह आज यूएसबी ने ले ली है इस पोर्ट का सिर्फ एक ही कनेक्टर है जिसे DB-25 कहते है ।

Firewire port :

firewire port definition  firewire port for pc  firewire port mac  what does a firewire port look like  picture of firewire port  firewire types  firewire to usb  firewire to hdmi
Firewire port definition

इस पोर्ट को 1394 से भी पहचाना जाता है, इस पोर्ट की डिजाइन एप्पल कंपनी ने बनाई थी, जो काफी हद तक Usb से मिलती जुलती है, यह पोर्ट एप्पल के कंप्यूटर में ज्यादातर देखने को मिलते हैं, इस पोर्ट के टोटल 4 वर्जन है, FIREWIRE-400, FIREWIRE-800, FIREWIRE-1609, FIREWIRE-3200  ये पोर्ट 2013 तक बहुत ही पॉपुलर था लेकिन इसकी जगह Thunderbolt और USB ने लेली, यह पोर्ट 400 एमबीपीएस से लेके 800 एमबीपीएस तक कि स्पीड से डाटा ट्रांसफर कर सकता है, 

Ethernet Port: 

ethernet port in wall  ethernet port adapter  lan port vs ethernet port  ethernet port rj45  types of ethernet  ethernet port splitter  what is ethernet connection  ethernet port speed
Ethernet Port

यह पोर्ट नेटवर्क के लिए इस्तेमाल होता है एक से ज्यादा कंप्यूटर के साथ नेटवर्क करने का हो या फिर इंटरनेट कनेक्ट करना हो वायर के जरिए नेट कनेक्ट करने के लिए इस पोर्ट का इस्तेमाल होता है, इस कनेक्टर को RJ45 से पहचाना जाता है या फिर 8P8C से भी पहचाना जाता है, आजकल सभी मॉडेम और राउटर में यह दिया जाता है

AUDIO PORT 

audio port types  motherboard audio ports headphones  blue audio port  hd audio port  audio out port  audio jack symbols  b350 tomahawk audio ports  what is the blue audio port used for
motherboard audio ports

यह एक ऑडियो पोर्ट है , सीपीयू के अंदर एक हेडफोन जैक और एक माइक जैक होता है जबकि लैपटॉप में इन दोनों के लिए सिर्फ एक ही पोर्ट होता है ऑडियो पोर्ट के कुल 3 Standard है , 2.5mm, 3.5mm, ऑर 6.5mm, इसमें से 3.5mm ज्यादातर इस्तेमाल होता है हर एक लैपटॉप और मोबाइल के लिए यह 3.5 एमएम जैक नॉर्मल होता है इसमें अलग अलग दो तरह के पिन होती है, जिसमें TRC और TRRS सेटिंग होता है, नीचे की फोटो में देखें, यहां बताए हुए सेटिंग ज्यादातर पीसी में उपयोग होते हैं जबकि दूसरे ऑडियो डिवाइस के लिए अलग से सेटिंग होते हैं

अगर आपको मेरी ये जानकारी अछि लगी हो तो निचे कमेंट जरुर करे , और भी ऐसी जानकारी पाने के लिए निचे कमेंट में अपना ईमेल एड्रेस जरुर लिखे 
धन्यवाद

Post a Comment

0 Comments